SIDEBAR
»
S
I
D
E
B
A
R
«
Arati
September 21st, 2009 by Sowmya

Arati (Hindi आरती), also spelled arathi, aarthi (from the Sanskrit term Aradhana) is a Hindu ritual, in which light from wicks soaked in ghee (purified butter) or camphor is offered to one or more deities.

Ancient religions began with the worship of nature and Arati itself can be considered as a worship of fire, although not as elaborate as the Havan or Homa.

The word “Aa” means “towards or to”, and “rati” means “right or virtue” in Sanskrit and hence Arati can be considered as a ritual drawing a person towards light or knowledge.

The Brhadaranyaka Upanishad says

asato ma sadgamaya
tamaso ma jyotirgamaya
mrtyorma amrtam gamaya

Lead me from the unreal to the reality.
Lead me from darkness to light.
Lead me from death to immortality.

On a subtler level, the arati is also symbolic of this dispelling of darkness or tamas (the lower qualities) by light which symbolizes knowledge.

This site has links to the following popular Aratis

Posts

  • Learn to Chant - Hanuman Arati Hanuman Arati [youtube=http://www.youtube.com/watch?v=9mcDj5qR5H8&hl=en&fs=1&] LYRICS: ENGLISH SANSKRIT / HINDI TAMIL TELUGU MALAYALAM KANNADA ENGLISH LYRICS āratī kījai hanumāna lalā kī | duṣṭa dalana raghunātha kalā kī || jākē bala sē girivara kām̐pē, rōga dōṣa jākē nikaṭa na jhām̐kē| aṁjani putra mahā baladāyī, saṁtana kē prabhu sadā sahāyī|| āratī kījai hanumāna lalā kī | dē bīṛā raghunātha paṭhāyē, laṁkā jāya siyā sudhi lāyē| laṁkā sau kōṭi samudra sī khāī, jāta pavanasuta bāra na lāī || ārati kījai hanumāna lalā kī | laṁkā jāri asura saṁhārē, siyā rāmajī kē kāja saṁvārē | lakṣmaṇa mūrchita paṛē sakārē, āna saṁjīvana prāṇa ubārē || āratī kījai hanumāna lalā kī | paiṭhi pātāla tōṛi yama kārē, ahirāvana kī bhujā ukhārē | bām̐yē bhujā asuradala mārē, dāhinē bhujā saṁta jana tārē || ārati kījai hanumāna lalā kī | sura nara muni jana ārati utārē, jaya jaya jaya hanumāna ucārē | kaṁcana thāra kapūra lau chāī, āratī karatī aṁjanā māī || āratī kījai hanumāna lalā kī | jō hanumāna jī kī ārati gāvē, basi vaikuṇṭha parama pada pāvē | āratī kījai hanumāna lalā kī| duṣṭa dalana raghunātha kalā kī || Return to Top SANSKRIT/HINDI LYRICS आरती कीजै हनुमान लला की । दुष्ट दलन रघुनाथ कला की ॥ जाके बल से गिरिवर काँपे, रोग दोष जाके निकट न झाँके। अंजनि पुत्र महा बलदायी, संतन के प्रभु सदा सहायी॥ आरती कीजै हनुमान लला की । दे बीड़ा रघुनाथ पठाये, लंका जाय सिया सुधि लाये। लंका सौ कोटि समुद्र सी खाई, जात पवनसुत बार न लाई ॥ आरति कीजै हनुमान लला की । लंका जारि असुर संहारे, सिया रामजी के काज संवारे । लक्ष्मण मूर्छित पड़े सकारे, आन संजीवन प्राण उबारे ॥ आरती कीजै हनुमान लला की । पैठि पाताल तोड़ि यम कारे, अहिरावन की भुजा उखारे । बाँये भुजा असुरदल मारे, दाहिने भुजा संत जन तारे ॥ आरति कीजै हनुमान लला की । सुर नर मुनि जन आरति उतारे, जय जय जय हनुमान उचारे । कंचन थार कपूर लौ छाई, आरती करती अंजना माई ॥ आरती कीजै हनुमान लला की । जो हनुमान जी की आरति गावे, बसि वैकुण्ठ परम पद पावे । आरती कीजै हनुमान लला की। दुष्ट दलन रघुनाथ कला की ॥ Return to Top TAMIL LYRICS ஆரதீ கீஜை ஹனுமான லலா கீ | து³ஷ்ட த³லன ரகு⁴னாத² கலா கீ || ஜாகே ப³ல ஸே கி³ரிவர காம்பே, ரோக³ தோ³ஷ ஜாகே நிகட ந ஜா²ங்கே| அஞ்ஜனி புத்ர மஹா ப³லதா³யீ, ஸந்தன கே ப்ரபு⁴ ஸதா³ ஸஹாயீ|| ஆரதீ கீஜை ஹனுமான லலா கீ | தே³ பீ³ஃ‌டா³ ரகு⁴னாத² படா²யே, லங்கா ஜாய ஸியா ஸுதி⁴ லாயே| லங்கா ஸௌ கோடி ஸமுத்³ர ஸீ கா²ஈ, ஜாத பவனஸுத பா³ர ந லாஈ || ஆரதி கீஜை ஹனுமான லலா கீ | லங்கா ஜாரி அஸுர ஸம்ʼஹாரே, ஸியா ராமஜீ கே காஜ ஸம்ʼவாரே | லக்ஷ்மண மூர்சி²த பஃ‌டே³ ஸகாரே, ஆன ஸஞ்ஜீவன ப்ராண உபா³ரே || ஆரதீ கீஜை ஹனுமான லலா கீ | பைடி² பாதால தோஃ‌டி³ யம காரே, அஹிராவன கீ பு⁴ஜா உகா²ரே | பா³ம் ̐யே பு⁴ஜா அஸுரத³ல மாரே, தா³ஹினே பு⁴ஜா ஸந்த ஜன தாரே || ஆரதி கீஜை ஹனுமான லலா கீ | ஸுர நர முனி ஜன ஆரதி உதாரே, ஜய ஜய ஜய ஹனுமான உசாரே | கஞ்சன தா²ர கபூர லௌ சா²ஈ, ஆரதீ கரதீ அஞ்ஜனா மாஈ || ஆரதீ கீஜை ஹனுமான லலா கீ | ஜோ ஹனுமான ஜீ கீ ஆரதி கா³வே, ப³ஸி வைகுண்ட² பரம பத³ பாவே | ஆரதீ கீஜை ஹனுமான லலா கீ| து³ஷ்ட த³லன ரகு⁴னாத² கலா கீ || Return to Top TELUGU LYRICS ఆరతీ కీజై హనుమాన లలా కీ | దుష్ట దలన రఘునాథ కలా కీ || జాకే బల సే గిరివర కాఁపే, రోగ దోష జాకే నికట న ఝాఁకే| అంజని పుత్ర మహా బలదాయీ, సంతన కే ప్రభు సదా సహాయీ|| ఆరతీ కీజై హనుమాన లలా కీ | దే బీడా రఘునాథ పఠాయే, లంకా జాయ సియా సుధి లాయే| లంకా సౌ కోటి సముద్ర సీ ఖాఈ, జాత పవనసుత బార న లాఈ || ఆరతి కీజై హనుమాన లలా కీ | లంకా జారి అసుర సంహారే, సియా రామజీ కే కాజ సంవారే | లక్ష్మణ మూర్ఛిత పడే సకారే, ఆన సంజీవన ప్రాణ ఉబారే || ఆరతీ కీజై హనుమాన లలా కీ | పైఠి పాతాల తోడి యమ కారే, అహిరావన కీ భుజా ఉఖారే | బాఁయే భుజా అసురదల మారే, దాహినే భుజా సంత జన తారే || ఆరతి కీజై హనుమాన లలా కీ | సుర నర ముని జన ఆరతి ఉతారే, జయ జయ జయ హనుమాన ఉచారే | కంచన థార కపూర లౌ ఛాఈ, ఆరతీ కరతీ అంజనా మాఈ || ఆరతీ కీజై హనుమాన లలా కీ | జో హనుమాన జీ కీ ఆరతి గావే, బసి వైకుంఠ పరమ పద పావే | ఆరతీ కీజై హనుమాన లలా కీ| దుష్ట దలన రఘునాథ కలా కీ || Return to Top MALAYALAM LYRICS ആരതീ കീജൈ ഹനുമാന ലലാ കീ | ദുഷ്ട ദലന രഘുനാഥ കലാ കീ || ജാകേ ബല സേ ഗിരിവര കാമ്പേ, രോഗ ദോഷ ജാകേ നികട ന ഝാങ്കേ| അഞ്ജനി പുത്ര മഹാ ബലദായീ, സന്തന കേ പ്രഭു സദാ സഹായീ|| ആരതീ കീജൈ ഹനുമാന ലലാ കീ | ദേ ബീഡാ രഘുനാഥ പഠായേ, ലങ്കാ ജായ സിയാ സുധി ലായേ| ലങ്കാ സൗ കോടി സമുദ്ര സീ ഖാഈ, ജാത പവനസുത ബാര ന ലാഈ || ആരതി കീജൈ ഹനുമാന ലലാ കീ | ലങ്കാ ജാരി അസുര സംഹാരേ, സിയാ രാമജീ കേ കാജ സംവാരേ | ലക്ഷ്മണ മൂർഛിത പഡേ സകാരേ, ആന സഞ്ജീവന പ്രാണ ഉബാരേ || ആരതീ കീജൈ ഹനുമാന ലലാ കീ | പൈഠി പാതാല തോഡി യമ കാരേ, അഹിരാവന കീ ഭുജാ ഉഖാരേ | ബാംയേ ഭുജാ അസുരദല മാരേ, ദാഹിനേ ഭുജാ സന്ത ജന താരേ || ആരതി കീജൈ ഹനുമാന ലലാ കീ | സുര നര മുനി ജന ആരതി ഉതാരേ, ജയ ജയ ജയ ഹനുമാന ഉചാരേ | കഞ്ചന ഥാര കപൂര ലൗ ഛാഈ, ആരതീ കരതീ അഞ്ജനാ മാഈ || ആരതീ കീജൈ ഹനുമാന ലലാ കീ | ജോ ഹനുമാന ജീ കീ ആരതി ഗാവേ, ബസി വൈകുണ്ഠ പരമ പദ പാവേ | ആരതീ കീജൈ ഹനുമാന ലലാ കീ| ദുഷ്ട ദലന രഘുനാഥ കലാ കീ || Return to Top KANNADA LYRICS ಆರತೀ ಕೀಜೈ ಹನುಮಾನ ಲಲಾ ಕೀ | ದುಷ್ಟ ದಲನ ರಘುನಾಥ ಕಲಾ ಕೀ || ಜಾಕೇ ಬಲ ಸೇ ಗಿರಿವರ ಕಾಂಪೇ, ರೋಗ ದೋಷ ಜಾಕೇ ನಿಕಟ ನ ಝಾಂಕೇ| ಅಂಜನಿ ಪುತ್ರ ಮಹಾ ಬಲದಾಯೀ, ಸಂತನ ಕೇ ಪ್ರಭು ಸದಾ ಸಹಾಯೀ|| ಆರತೀ ಕೀಜೈ ಹನುಮಾನ ಲಲಾ ಕೀ | ದೇ ಬೀಡಾ಼ ರಘುನಾಥ ಪಠಾಯೇ, ಲಂಕಾ ಜಾಯ ಸಿಯಾ ಸುಧಿ ಲಾಯೇ| ಲಂಕಾ ಸೌ ಕೋಟಿ ಸಮುದ್ರ ಸೀ ಖಾಈ, ಜಾತ ಪವನಸುತ ಬಾರ ನ ಲಾಈ || ಆರತಿ ಕೀಜೈ ಹನುಮಾನ ಲಲಾ ಕೀ | ಲಂಕಾ ಜಾರಿ ಅಸುರ ಸಂಹಾರೇ, ಸಿಯಾ ರಾಮಜೀ ಕೇ ಕಾಜ ಸಂವಾರೇ | ಲಕ್ಷ್ಮಣ ಮೂರ್ಛಿತ ಪಡೇ಼ ಸಕಾರೇ, ಆನ ಸಂಜೀವನ ಪ್ರಾಣ ಉಬಾರೇ || ಆರತೀ ಕೀಜೈ ಹನುಮಾನ ಲಲಾ ಕೀ | ಪೈಠಿ ಪಾತಾಲ ತೋಡಿ಼ ಯಮ ಕಾರೇ, ಅಹಿರಾವನ ಕೀ ಭುಜಾ ಉಖಾರೇ | ಬಾಂಯೇ ಭುಜಾ ಅಸುರದಲ ಮಾರೇ, ದಾಹಿನೇ ಭುಜಾ ಸಂತ ಜನ ತಾರೇ || ಆರತಿ ಕೀಜೈ ಹನುಮಾನ ಲಲಾ ಕೀ | ಸುರ ನರ ಮುನಿ ಜನ ಆರತಿ ಉತಾರೇ, ಜಯ ಜಯ ಜಯ ಹನುಮಾನ ಉಚಾರೇ | ಕಂಚನ ಥಾರ ಕಪೂರ ಲೌ ಛಾಈ, ಆರತೀ ಕರತೀ ಅಂಜನಾ ಮಾಈ || ಆರತೀ ಕೀಜೈ ಹನುಮಾನ ಲಲಾ ಕೀ | ಜೋ ಹನುಮಾನ ಜೀ ಕೀ ಆರತಿ ಗಾವೇ, ಬಸಿ ವೈಕುಂಠ ಪರಮ ಪದ ಪಾವೇ | ಆರತೀ ಕೀಜೈ ಹನುಮಾನ ಲಲಾ ಕೀ| ದುಷ್ಟ ದಲನ ರಘುನಾಥ ಕಲಾ ಕೀ || Return to Top
  • Learn to Chant - Shri Rama Chandra Arati Shri Rama Chandra Arati [youtube=http://www.youtube.com/watch?v=Fo848a-qoSk&hl=en&fs=1&] LYRICS: ENGLISH SANSKRIT / HINDI TAMIL TELUGU MALAYALAM KANNADA ENGLISH LYRICS - śrī rāmacandra kr̥pālu śrīrāmacandra kr̥pālu bhaju mana haraṇa bhavabhaya dāruṇam | navakañja lōcana, kañjamukha kara, kañjapada kañjāruṇam ||1|| kaṁdarpa agaṇita amita chabi nava nīla nīraja sundaram | paṭapīta mānahuṁ taṛita rūci-śucī naumi janaka sutāvaram ||2|| bhaju dīna bandhu dinēśa dānava daityavaṁśanikandanam | raghunanda ānaṁdakaṁda kōśala canda daśaratha nandanam||3|| sira mukuṭa kuṇḍala tilaka cāru udāru aṅga vibhūṣaṇam | ājānubhuja śara cāpadhara saṅgrāma-jita-khara dūṣaṇam||4|| iti vadati tulasīdāsa śaṅkara śēṣa muni manarañjanam| mama hr̥dayakañja nivāsa kuru kāmādi khaladalagañjanam ||5|| Return to Top SANSKRIT/HINDI LYRICS - श्री रामचन्द्र कृपालु श्रीरामचन्द्र कृपालु भजु मन हरण भवभय दारुणम् । नवकञ्ज लोचन, कञ्जमुख कर, कञ्जपद कञ्जारुणम् ॥१॥ कंदर्प अगणित अमित छबि नव नील नीरज सुन्दरम् । पटपीत मानहुं तड़ित रूचि-शुची नौमि जनक सुतावरम् ॥२॥ भजु दीन बन्धु दिनेश दानव दैत्यवंशनिकन्दनम् । रघुनन्द आनंदकंद कोशल चन्द दशरथ नन्दनम्॥३॥ सिर मुकुट कुण्डल तिलक चारु उदारु अङ्ग विभूषणम् । आजानुभुज शर चापधर सङ्ग्राम-जित-खर दूषणम्॥४॥ इति वदति तुलसीदास शङ्कर शेष मुनि मनरञ्जनम्। मम हृदयकञ्ज निवास कुरु कामादि खलदलगञ्जनम् ॥५॥ Return to Top TAMIL LYRICS - ஶ்ரீ ராமசந்த்³ர க்ருʼபாலு ஶ்ரீராமசந்த்³ர க்ருʼபாலு ப⁴ஜு மன ஹரண ப⁴வப⁴ய தா³ருணம் | நவகஞ்ஜ லோசன, கஞ்ஜமுக² கர, கஞ்ஜபத³ கஞ்ஜாருணம் || 1|| கந்த³ர்ப அக³ணித அமித ச²பி³ நவ நீல நீரஜ ஸுந்த³ரம் | படபீத மானஹும்ʼ தஃடி³த ரூசி-ஶுசீ நௌமி ஜனக ஸுதாவரம் || 2|| ப⁴ஜு தீ³ன ப³ந்து⁴ தி³னேஶ தா³னவ தை³த்யவம்ʼஶனிகந்த³னம் | ரகு⁴னந்த³ ஆனந்த³கந்த³ கோஶல சந்த³ த³ஶரத² நந்த³னம்|| 3|| ஸிர முகுட குண்ட³ல திலக சாரு உதா³ரு அங்க³ விபூ⁴ஷணம் | ஆஜானுபு⁴ஜ ஶர சாபத⁴ர ஸங்க்³ராம-ஜித-க²ர தூ³ஷணம்|| 4|| இதி வத³தி துலஸீதா³ஸ ஶங்கர ஶேஷ முனி மனரஞ்ஜனம்| மம ஹ்ருʼத³யகஞ்ஜ நிவாஸ குரு காமாதி³ க²லத³லக³ஞ்ஜனம் || 5|| Return to Top TELUGU LYRICS- శ్రీ రామచన్ద్ర కృపాలు శ్రీరామచన్ద్ర కృపాలు భజు మన హరణ భవభయ దారుణమ్ | నవకఞ్జ లోచన, కఞ్జముఖ కర, కఞ్జపద కఞ్జారుణమ్ || 1|| కందర్ప అగణిత అమిత ఛబి నవ నీల నీరజ సున్దరమ్ | పటపీత మానహుం తడి•త రూచి-శుచీ నౌమి జనక సుతావరమ్ || 2|| భజు దీన బన్ధు దినేశ దానవ దైత్యవంశనికన్దనమ్ | రఘునన్ద ఆనందకంద కోశల చన్ద దశరథ నన్దనమ్|| 3|| సిర ముకుట కుణ్డల తిలక చారు ఉదారు అఙ్గ విభూషణమ్ | ఆజానుభుజ శర చాపధర సఙ్గ్రామ-జిత-ఖర దూషణమ్|| 4|| ఇతి వదతి తులసీదాస శఙ్కర శేష ముని మనరఞ్జనమ్| మమ హృదయకఞ్జ నివాస కురు కామాది ఖలదలగఞ్జనమ్ ||5|| Return to Top MALAYALAM LYRICS - ശ്രീ രാമചന്ദ്ര കൃപാലു ശ്രീരാമചന്ദ്ര കൃപാലു ഭജു മന ഹരണ ഭവഭയ ദാരുണമ് | നവകഞ്ജ ലോചന, കഞ്ജമുഖ കര, കഞ്ജപദ കഞ്ജാരുണമ് || 1|| കംദർപ അഗണിത അമിത ഛബി നവ നീല നീരജ സുന്ദരമ് | പടപീത മാനഹും തഡി•ത രൂചി-ശുചീ നൗമി ജനക സുതാവരമ് || 2|| ഭജു ദീന ബന്ധു ദിനേശ ദാനവ ദൈത്യവംശനികന്ദനമ് | രഘുനന്ദ ആനംദകംദ കോശല ചന്ദ ദശരഥ നന്ദനമ്|| 3|| സിര മുകുട കുണ്ഡല തിലക ചാരു ഉദാരു അങ്ഗ വിഭൂഷണമ് | ആജാനുഭുജ ശര ചാപധര സങ്ഗ്രാമ-ജിത-ഖര ദൂഷണമ്|| 4|| ഇതി വദതി തുലസീദാസ ശങ്കര ശേഷ മുനി മനരഞ്ജനമ്| മമ ഹൃദയകഞ്ജ നിവാസ കുരു കാമാദി ഖലദലഗഞ്ജനമ് || 5|| Return to Top KANNADA LYRICS- ಶ್ರೀ ರಾಮಚನ್ದ್ರ ಕೃಪಾಲು ಶ್ರೀರಾಮಚನ್ದ್ರ ಕೃಪಾಲು ಭಜು ಮನ ಹರಣ ಭವಭಯ ದಾರುಣಮ್ | ನವಕಞ್ಜ ಲೋಚನ, ಕಞ್ಜಮುಖ ಕರ, ಕಞ್ಜಪದ ಕಞ್ಜಾರುಣಮ್ || ೧|| ಕಂದರ್ಪ ಅಗಣಿತ ಅಮಿತ ಛಬಿ ನವ ನೀಲ ನೀರಜ ಸುನ್ದರಮ್ | ಪಟಪೀತ ಮಾನಹುಂ ತಡಿ಼ತ ರೂಚಿ-ಶುಚೀ ನೌಮಿ ಜನಕ ಸುತಾವರಮ್ || ೨|| ಭಜು ದೀನ ಬನ್ಧು ದಿನೇಶ ದಾನವ ದೈತ್ಯವಂಶನಿಕನ್ದನಮ್ | ರಘುನನ್ದ ಆನಂದಕಂದ ಕೋಶಲ ಚನ್ದ ದಶರಥ ನನ್ದನಮ್|| ೩|| ಸಿರ ಮುಕುಟ ಕುಣ್ಡಲ ತಿಲಕ ಚಾರು ಉದಾರು ಅಙ್ಗ ವಿಭೂಷಣಮ್ | ಆಜಾನುಭುಜ ಶರ ಚಾಪಧರ ಸಙ್ಗ್ರಾಮ-ಜಿತ-ಖರ ದೂಷಣಮ್|| ೪|| ಇತಿ ವದತಿ ತುಲಸೀದಾಸ ಶಙ್ಕರ ಶೇಷ ಮುನಿ ಮನರಞ್ಜನಮ್| ಮಮ ಹೃದಯಕಞ್ಜ ನಿವಾಸ ಕುರು ಕಾಮಾದಿ ಖಲದಲಗಞ್ಜನಮ್ || ೫|| Return to Top
  • Learn to Chant - Aarti Kunj Bihari Ki Aarti Kunj Bihari Ki [youtube=http://www.youtube.com/watch?v=hjvPt6bGA2E&hl=en&fs=1&] LYRICS: ENGLISH SANSKRIT / HINDI TAMIL TELUGU MALAYALAM KANNADA BENGALI ENGLISH LYRICS āratī kum̐ja bihārī kī śrī giridhara kr̥ṣṇa murārī kī .. galē mēṁ vaijantī mālā, mālā bajāvē muralī madhura bālā, bālā śravaṇa mēṁ kuṇḍala jhalakālā, jhalakālā nanda kē nanda, śrī ānanda kanda, mōhana br̥̄ja canda rādhikā ramaṇa bihārī kī śrī giridhara kr̥ṣṇa murārī kī .. gagana sama aṁga kānti kālī, kālī rādhikā camaka rahī ālī, ālī lasana mēṁ ṭhāṛē vanamālī, vanamālī bhramara sī alaka, kastūrī tilaka, candra sī jhalaka lalita chavi śyāmā pyārī kī śrī giridhara kr̥ṣṇa murārī kī .. jahām̐ sē pragaṭa bhayī gaṁgā, gaṁgā kaluṣa kali hāriṇi śrī gaṁgā, gaṁgā smaraṇa sē hōta mōha bhaṁgā, bhaṁgā basī śiva śīśa, jaṭā kē bīca, harē agha kīca caraṇa chavi śrī banavārī kī śrī giridhara kr̥ṣṇa murārī kī .. kanakamaya mōra mukuṭa bilasai, bilasai dēvatā darasana kō tarasai, tarasai gagana sōṁ sumana rāśi barasai, barasai bajēmuracana madhura mr̥daṁga mālini saṁga atula rati gōpa kumārī kī śrī giridhara kr̥ṣṇa murārī kī .. camakatī ujjvala taṭa rēṇu, rēṇu baja rahī br̥ndāvana vēṇu, vēṇu cahum̐ disi gōpi kāla dhēnu, dhēnu kasaka mr̥da maṁga, cām̐dani canda, khaṭaka bhava bhanja ṭēra suna dīna bhikhārī kī śrī giridhara kr̥ṣṇa murārī kī .. Return to Top SANSKRIT/HINDI LYRICS आरती कुँज बिहारी की श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की .. गले में वैजन्ती माला, माला बजावे मुरली मधुर बाला, बाला श्रवण में कुण्डल झलकाला, झलकाला नन्द के नन्द, श्री आनन्द कन्द, मोहन बॄज चन्द राधिका रमण बिहारी की श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की .. गगन सम अंग कान्ति काली, काली राधिका चमक रही आली, आली लसन में ठाड़े वनमाली, वनमाली भ्रमर सी अलक, कस्तूरी तिलक, चन्द्र सी झलक ललित छवि श्यामा प्यारी की श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की .. जहाँ से प्रगट भयी गंगा, गंगा कलुष कलि हारिणि श्री गंगा, गंगा स्मरण से होत मोह भंगा, भंगा बसी शिव शीश, जटा के बीच, हरे अघ कीच चरण छवि श्री बनवारी की श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की .. कनकमय मोर मुकुट बिलसै, बिलसै देवता दरसन को तरसै, तरसै गगन सों सुमन राशि बरसै, बरसै बजेमुरचन मधुर मृदंग मालिनि संग अतुल रति गोप कुमारी की श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की .. चमकती उज्ज्वल तट रेणु, रेणु बज रही बृन्दावन वेणु, वेणु चहुँ दिसि गोपि काल धेनु, धेनु कसक मृद मंग, चाँदनि चन्द, खटक भव भन्ज टेर सुन दीन भिखारी की श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की .. Return to Top TAMIL LYRICS ஆரதீ குஞ்ஜ பி₃ஹாரீ கீ ஶ்ரீ கி₃ரித₄ர க்ருʼஷ்ண முராரீ கீ .. க₃லே மேம்ʼ வைஜந்தீ மாலா, மாலா ப₃ஜாவே முரலீ மது₄ர பா₃லா, பா₃லா ஶ்ரவண மேம்ʼ குண்ட₃ல ஜ₂லகாலா, ஜ₂லகாலா நந்த₃ கே நந்த₃, ஶ்ரீ ஆனந்த₃ கந்த₃, மோஹன ப்₃ரூʼஜ சந்த₃ ராதி₄கா ரமண பி₃ஹாரீ கீ ஶ்ரீ கி₃ரித₄ர க்ருʼஷ்ண முராரீ கீ .. க₃க₃ன ஸம அங்க₃ காந்தி காலீ, காலீ ராதி₄கா சமக ரஹீ ஆலீ, ஆலீ லஸன மேம்ʼ டா₂ஃடே₃ வனமாலீ, வனமாலீ ப்₄ரமர ஸீ அலக, கஸ்தூரீ திலக, சந்த்₃ர ஸீ ஜ₂லக லலித ச₂வி ஶ்யாமா ப்யாரீ கீ ஶ்ரீ கி₃ரித₄ர க்ருʼஷ்ண முராரீ கீ .. ஜஹாம் ̐ ஸே ப்ரக₃ட ப₄யீ க₃ங்கா₃, க₃ங்கா₃ கலுஷ கலி ஹாரிணி ஶ்ரீ க₃ங்கா₃, க₃ங்கா₃ ஸ்மரண ஸே ஹோத மோஹ ப₄ங்கா₃, ப₄ங்கா₃ ப₃ஸீ ஶிவ ஶீஶ, ஜடா கே பீ₃ச, ஹரே அக₄ கீச சரண ச₂வி ஶ்ரீ ப₃னவாரீ கீ ஶ்ரீ கி₃ரித₄ர க்ருʼஷ்ண முராரீ கீ .. கனகமய மோர முகுட பி₃லஸை, பி₃லஸை தே₃வதா த₃ரஸன கோ தரஸை, தரஸை க₃க₃ன ஸோம்ʼ ஸுமன ராஶி ப₃ரஸை, ப₃ரஸை ப₃ஜேமுரசன மது₄ர ம்ருʼத₃ங்க₃ மாலினி ஸங்க₃ அதுல ரதி கோ₃ப குமாரீ கீ ஶ்ரீ கி₃ரித₄ர க்ருʼஷ்ண முராரீ கீ .. சமகதீ உஜ்ஜ்வல தட ரேணு, ரேணு ப₃ஜ ரஹீ ப்₃ருʼந்தா₃வன வேணு, வேணு சஹும் ̐ தி₃ஸி கோ₃பி கால தே₄னு, தே₄னு கஸக ம்ருʼத₃ மங்க₃, சாந்த₃னி சந்த₃, க₂டக ப₄வ ப₄ன்ஜ டேர ஸுன தீ₃ன பி₄கா₂ரீ கீ ஶ்ரீ கி₃ரித₄ர க்ருʼஷ்ண முராரீ கீ .. Return to Top TELUGU LYRICS ఆరతీ కుఁజ బిహారీ కీ శ్రీ గిరిధర కృష్ణ మురారీ కీ .. గలే మేం వైజంతీ మాలా, మాలా బజావే మురలీ మధుర బాలా, బాలా శ్రవణ మేం కుండల ఝలకాలా, ఝలకాలా నంద కే నంద, శ్రీ ఆనంద కంద, మోహన బౄజ చంద రాధికా రమణ బిహారీ కీ శ్రీ గిరిధర కృష్ణ మురారీ కీ .. గగన సమ అంగ కాంతి కాలీ, కాలీ రాధికా చమక రహీ ఆలీ, ఆలీ లసన మేం ఠాడే వనమాలీ, వనమాలీ భ్రమర సీ అలక, కస్తూరీ తిలక, చంద్ర సీ ఝలక లలిత ఛవి శ్యామా ప్యారీ కీ శ్రీ గిరిధర కృష్ణ మురారీ కీ .. జహాఁ సే ప్రగట భయీ గంగా, గంగా కలుష కలి హారిణి శ్రీ గంగా, గంగా స్మరణ సే హోత మోహ భంగా, భంగా బసీ శివ శీశ, జటా కే బీచ, హరే అఘ కీచ చరణ ఛవి శ్రీ బనవారీ కీ శ్రీ గిరిధర కృష్ణ మురారీ కీ .. కనకమయ మోర ముకుట బిలసై, బిలసై దేవతా దరసన కో తరసై, తరసై గగన సోం సుమన రాశి బరసై, బరసై బజేమురచన మధుర మృదంగ మాలిని సంగ అతుల రతి గోప కుమారీ కీ శ్రీ గిరిధర కృష్ణ మురారీ కీ .. చమకతీ ఉజ్జ్వల తట రేణు, రేణు బజ రహీ బృందావన వేణు, వేణు చహుఁ దిసి గోపి కాల ధేను, ధేను కసక మృద మంగ, చాఁదని చంద, ఖటక భవ భన్జ టేర సున దీన భిఖారీ కీ శ్రీ గిరిధర కృష్ణ మురారీ కీ .. Return to Top MALAYALAM LYRICS ആരതീ കുഞ്ജ ബിഹാരീ കീ ശ്രീ ഗിരിധര കൃഷ്ണ മുരാരീ കീ .. ഗലേ മേം വൈജന്തീ മാലാ, മാലാ ബജാവേ മുരലീ മധുര ബാലാ, ബാലാ ശ്രവണ മേം കുണ്ഡല ഝലകാലാ, ഝലകാലാ നന്ദ കേ നന്ദ, ശ്രീ ആനന്ദ കന്ദ, മോഹന ബൄജ ചന്ദ രാധികാ രമണ ബിഹാരീ കീ ശ്രീ ഗിരിധര കൃഷ്ണ മുരാരീ കീ .. ഗഗന സമ അംഗ കാന്തി കാലീ, കാലീ രാധികാ ചമക രഹീ ആലീ, ആലീ ലസന മേം ഠാഡേ വനമാലീ, വനമാലീ ഭ്രമര സീ അലക, കസ്തൂരീ തിലക, ചന്ദ്ര സീ ഝലക ലലിത ഛവി ശ്യാമാ പ്യാരീ കീ ശ്രീ ഗിരിധര കൃഷ്ണ മുരാരീ കീ .. ജഹാം സേ പ്രഗട ഭയീ ഗംഗാ, ഗംഗാ കലുഷ കലി ഹാരിണി ശ്രീ ഗംഗാ, ഗംഗാ സ്മരണ സേ ഹോത മോഹ ഭംഗാ, ഭംഗാ ബസീ ശിവ ശീശ, ജടാ കേ ബീച, ഹരേ അഘ കീച ചരണ ഛവി ശ്രീ ബനവാരീ കീ ശ്രീ ഗിരിധര കൃഷ്ണ മുരാരീ കീ .. കനകമയ മോര മുകുട ബിലസൈ, ബിലസൈ ദേവതാ ദരസന കോ തരസൈ, തരസൈ ഗഗന സോം സുമന രാശി ബരസൈ, ബരസൈ ബജേമുരചന മധുര മൃദംഗ മാലിനി സംഗ അതുല രതി ഗോപ കുമാരീ കീ ശ്രീ ഗിരിധര കൃഷ്ണ മുരാരീ കീ .. ചമകതീ ഉജ്ജ്വല തട രേണു, രേണു ബജ രഹീ ബൃന്ദാവന വേണു, വേണു ചഹും ദിസി ഗോപി കാല ധേനു, ധേനു കസക മൃദ മംഗ, ചാന്ദനി ചന്ദ, ഖടക ഭവ ഭൻജ ടേര സുന ദീന ഭിഖാരീ കീ ശ്രീ ഗിരിധര കൃഷ്ണ മുരാരീ കീ .. Return to Top KANNADA LYRICS ಆರತೀ ಕುಂಜ ಬಿಹಾರೀ ಕೀ ಶ್ರೀ ಗಿರಿಧರ ಕೃಷ್ಣ ಮುರಾರೀ ಕೀ .. ಗಲೇ ಮೇಂ ವೈಜಂತೀ ಮಾಲಾ, ಮಾಲಾ ಬಜಾವೇ ಮುರಲೀ ಮಧುರ ಬಾಲಾ, ಬಾಲಾ ಶ್ರವಣ ಮೇಂ ಕುಂಡಲ ಝಲಕಾಲಾ, ಝಲಕಾಲಾ ನಂದ ಕೇ ನಂದ, ಶ್ರೀ ಆನಂದ ಕಂದ, ಮೋಹನ ಬೄಜ ಚಂದ ರಾಧಿಕಾ ರಮಣ ಬಿಹಾರೀ ಕೀ ಶ್ರೀ ಗಿರಿಧರ ಕೃಷ್ಣ ಮುರಾರೀ ಕೀ .. ಗಗನ ಸಮ ಅಂಗ ಕಾಂತಿ ಕಾಲೀ, ಕಾಲೀ ರಾಧಿಕಾ ಚಮಕ ರಹೀ ಆಲೀ, ಆಲೀ ಲಸನ ಮೇಂ ಠಾಡೇ಼ ವನಮಾಲೀ, ವನಮಾಲೀ ಭ್ರಮರ ಸೀ ಅಲಕ, ಕಸ್ತೂರೀ ತಿಲಕ, ಚಂದ್ರ ಸೀ ಝಲಕ ಲಲಿತ ಛವಿ ಶ್ಯಾಮಾ ಪ್ಯಾರೀ ಕೀ ಶ್ರೀ ಗಿರಿಧರ ಕೃಷ್ಣ ಮುರಾರೀ ಕೀ .. ಜಹಾಂ ಸೇ ಪ್ರಗಟ ಭಯೀ ಗಂಗಾ, ಗಂಗಾ ಕಲುಷ ಕಲಿ ಹಾರಿಣಿ ಶ್ರೀ ಗಂಗಾ, ಗಂಗಾ ಸ್ಮರಣ ಸೇ ಹೋತ ಮೋಹ ಭಂಗಾ, ಭಂಗಾ ಬಸೀ ಶಿವ ಶೀಶ, ಜಟಾ ಕೇ ಬೀಚ, ಹರೇ ಅಘ ಕೀಚ ಚರಣ ಛವಿ ಶ್ರೀ ಬನವಾರೀ ಕೀ ಶ್ರೀ ಗಿರಿಧರ ಕೃಷ್ಣ ಮುರಾರೀ ಕೀ .. ಕನಕಮಯ ಮೋರ ಮುಕುಟ ಬಿಲಸೈ, ಬಿಲಸೈ ದೇವತಾ ದರಸನ ಕೋ ತರಸೈ, ತರಸೈ ಗಗನ ಸೋಂ ಸುಮನ ರಾಶಿ ಬರಸೈ, ಬರಸೈ ಬಜೇಮುರಚನ ಮಧುರ ಮೃದಂಗ ಮಾಲಿನಿ ಸಂಗ ಅತುಲ ರತಿ ಗೋಪ ಕುಮಾರೀ ಕೀ ಶ್ರೀ ಗಿರಿಧರ ಕೃಷ್ಣ ಮುರಾರೀ ಕೀ .. ಚಮಕತೀ ಉಜ್ಜ್ವಲ ತಟ ರೇಣು, ರೇಣು ಬಜ ರಹೀ ಬೃಂದಾವನ ವೇಣು, ವೇಣು ಚಹುಂ ದಿಸಿ ಗೋಪಿ ಕಾಲ ಧೇನು, ಧೇನು ಕಸಕ ಮೃದ ಮಂಗ, ಚಾಂದನಿ ಚಂದ, ಖಟಕ ಭವ ಭನ್ಜ ಟೇರ ಸುನ ದೀನ ಭಿಖಾರೀ ಕೀ ಶ್ರೀ ಗಿರಿಧರ ಕೃಷ್ಣ ಮುರಾರೀ ಕೀ .. Return to Top BENGALI LYRICS আরতী কুঁজ বিহারী কী শ্রী গিরিধর কৃষ্ণ মুরারী কী .. গলে মেং বৈজন্তী মালা, মালা বজাবে মুরলী মধুর বালা, বালা শ্রবণ মেং কুণ্ডল ঝলকালা, ঝলকালা নন্দ কে নন্দ, শ্রী আনন্দ কন্দ, মোহন বৄজ চন্দ রাধিকা রমণ বিহারী কী শ্রী গিরিধর কৃষ্ণ মুরারী কী .. গগন সম অংগ কান্তি কালী, কালী রাধিকা চমক রহী আলী, আলী লসন মেং ঠাড়ে বনমালী, বনমালী ভ্রমর সী অলক, কস্তূরী তিলক, চন্দ্র সী ঝলক ললিত ছবি শ্যামা প্যারী কী শ্রী গিরিধর কৃষ্ণ মুরারী কী .. জহাঁ সে প্রগট ভয়ী গংগা, গংগা কলুষ কলি হারিণি শ্রী গংগা, গংগা স্মরণ সে হোত মোহ ভংগা, ভংগা বসী শিব শীশ, জটা কে বীচ, হরে অঘ কীচ চরণ ছবি শ্রী বনবারী কী শ্রী গিরিধর কৃষ্ণ মুরারী কী .. কনকময় মোর মুকুট বিলসৈ, বিলসৈ দেবতা দরসন কো তরসৈ, তরসৈ গগন সোং সুমন রাশি বরসৈ, বরসৈ বজেমুরচন মধুর মৃদংগ মালিনি সংগ অতুল রতি গোপ কুমারী কী শ্রী গিরিধর কৃষ্ণ মুরারী কী .. চমকতী উজ্জ্বল তট রেণু, রেণু বজ রহী বৃন্দাবন বেণু, বেণু চহুঁ দিসি গোপি কাল ধেনু, ধেনু কসক মৃদ মংগ, চাঁদনি চন্দ, খটক ভব ভন্জ টের সুন দীন ভিখারী কী শ্রী গিরিধর কৃষ্ণ মুরারী কী .. Return to Top
  • Learn to Chant - Satyanarayana Aarti Satyanarayana Arathi [youtube=http://www.youtube.com/watch?v=p7iu1iMEPkw&hl=en&fs=1&] LYRICS: ENGLISH SANSKRIT TAMIL TELUGU MALAYALAM KANNADA ENGLISH LYRICS jaya lakṣmīramaṇā, śrī jaya lakṣmīramaṇā | satyanārāyaṇa svāmī, janapātaka haraṇā || ōṁ jaya lakṣmīramaṇā ratna jaṛita siṁhāsana, adabhuta chavi rājē | nārada karata nirājana, ghaṁṭā dhvani bājē || ōṁ jaya lakṣmīramaṇā pragaṭa bhayē kali kāraṇa, dvija kō daraśa diyō | būṛhō brāhmaṇa banakara, kaṁcana mahala kiyō || ōṁ jaya lakṣmīramaṇā durbala bhīla kaṭhārō, ina para kr̥pā karī | caṁdracūṛa ēka rājā, jinakī vipatti harī || ōṁ jaya lakṣmīramaṇā vaiśya manōratha pāyō, śraddhā taja dīnī | sō phala bhōgyō prabhujī, phira stuti kīnī || ōṁ jaya lakṣmīramaṇā bhāva bhakti kē kāraṇa china-china rūpa dharayō | śraddhā dhāraṇa kīnī, tinakō kāja sarayō || ōṁ jaya lakṣmīramaṇā gvāla bāla saṁga rājā, vana mēṁ bhakti karī || manavāṁchita phala dīnhō, dīnadayāla harī || ōṁ jaya lakṣmīramaṇā caṛhata prasāda savāyā, kadalī phala mēvā || dhūpa dīpa tulasī sē, rājī satyadēvā || ōṁ jaya lakṣmīramaṇā satyanārāyaṇa kī ārati, jō kōi nara gāvē | kahata śivānaṁda svāmī, vāṁchita phala pāvē || ōṁ jaya lakṣmīramaṇā Return to Top SANSKRIT/HINDI LYRICS जय लक्ष्मीरमणा, श्री जय लक्ष्मीरमणा । सत्यनारायण स्वामी, जनपातक हरणा ॥ ॐ जय लक्ष्मीरमणा रत्न जड़ित सिंहासन, अदभुत छवि राजे । नारद करत निराजन, घंटा ध्वनि बाजे ॥ ॐ जय लक्ष्मीरमणा प्रगट भये कलि कारण, द्विज को दरश दियो । बूढ़ो ब्राह्मण बनकर, कंचन महल कियो ॥ ॐ जय लक्ष्मीरमणा दुर्बल भील कठारो, इन पर कृपा करी । चंद्रचूड़ एक राजा, जिनकी विपत्ति हरी ॥ ॐ जय लक्ष्मीरमणा वैश्य मनोरथ पायो, श्रद्धा तज दीनी । सो फल भोग्यो प्रभुजी, फिर स्तुति कीनी ॥ ॐ जय लक्ष्मीरमणा भाव भक्ति के कारण छिन-छिन रूप धरयो । श्रद्धा धारण कीनी, तिनको काज सरयो ॥ ॐ जय लक्ष्मीरमणा ग्वाल बाल संग राजा, वन में भक्ति करी ॥ मनवांछित फल दीन्हो, दीनदयाल हरी ॥ ॐ जय लक्ष्मीरमणा चढ़त प्रसाद सवाया, कदली फल मेवा ॥ धूप दीप तुलसी से, राजी सत्यदेवा ॥ ॐ जय लक्ष्मीरमणा सत्यनारायण की आरति, जो कोइ नर गावे । कहत शिवानंद स्वामी, वांछित फल पावे ॥ ॐ जय लक्ष्मीरमणा Return to Top TAMIL LYRICS ஜய லக்ஷ்மீரமணா, ஶ்ரீ ஜய லக்ஷ்மீரமணா | ஸத்யநாராயண ஸ்வாமீ, ஜனபாதக ஹரணா || ௐ ஜய லக்ஷ்மீரமணா ரத்ன ஜஃடி³த ஸிம்ʼஹாஸன, அத³பு⁴த ச²வி ராஜே | நாரத³ கரத நிராஜன, க⁴ண்டா த்⁴வனி பா³ஜே || ௐ ஜய லக்ஷ்மீரமணா ப்ரக³ட ப⁴யே கலி காரண, த்³விஜ கோ த³ரஶ தி³யோ | பூ³ஃடோ⁴ ப்³ராஹ்மண ப³னகர, கஞ்சன மஹல கியோ || ௐ ஜய லக்ஷ்மீரமணா து³ர்ப³ல பீ⁴ல கடா²ரோ, இன பர க்ருʼபா கரீ | சந்த்³ரசூஃட³ ஏக ராஜா, ஜினகீ விபத்தி ஹரீ || ௐ ஜய லக்ஷ்மீரமணா வைஶ்ய மனோரத² பாயோ, ஶ்ரத்³தா⁴ தஜ தீ³னீ | ஸோ ப²ல போ⁴க்³யோ ப்ரபு⁴ஜீ, பி²ர ஸ்துதி கீனீ || ௐ ஜய லக்ஷ்மீரமணா பா⁴வ ப⁴க்தி கே காரண சி²ன-சி²ன ரூப த⁴ரயோ | ஶ்ரத்³தா⁴ தா⁴ரண கீனீ, தினகோ காஜ ஸரயோ || ௐ ஜய லக்ஷ்மீரமணா க்³வால பா³ல ஸங்க³ ராஜா, வன மேம்ʼ ப⁴க்தி கரீ || மனவாஞ்சி²த ப²ல தீ³ன்ஹோ, தீ³னத³யால ஹரீ || ௐ ஜய லக்ஷ்மீரமணா சஃட⁴த ப்ரஸாத³ ஸவாயா, கத³லீ ப²ல மேவா || தூ⁴ப தீ³ப துலஸீ ஸே, ராஜீ ஸத்யதே³வா || ௐ ஜய லக்ஷ்மீரமணா ஸத்யநாராயண கீ ஆரதி, ஜோ கோஇ நர கா³வே | கஹத ஶிவானந்த³ ஸ்வாமீ, வாஞ்சி²த ப²ல பாவே || ௐ ஜய லக்ஷ்மீரமணா Return to Top TELUGU LYRICS జయ లక్ష్మీరమణా, శ్రీ జయ లక్ష్మీరమణా | సత్యనారాయణ స్వామీ, జనపాతక హరణా || ఓం జయ లక్ష్మీరమణా రత్న జడిత సింహాసన, అదభుత ఛవి రాజే | నారద కరత నిరాజన, ఘంటా ధ్వని బాజే || ఓం జయ లక్ష్మీరమణా ప్రగట భయే కలి కారణ, ద్విజ కో దరశ దియో | బూఢో బ్రాహ్మణ బనకర, కంచన మహల కియో || ఓం జయ లక్ష్మీరమణా దుర్బల భీల కఠారో, ఇన పర కృపా కరీ | చంద్రచూడ ఏక రాజా, జినకీ విపత్తి హరీ || ఓం జయ లక్ష్మీరమణా వైశ్య మనోరథ పాయో, శ్రద్ధా తజ దీనీ | సో ఫల భోగ్యో ప్రభుజీ, ఫిర స్తుతి కీనీ || ఓం జయ లక్ష్మీరమణా భావ భక్తి కే కారణ ఛిన-ఛిన రూప ధరయో | శ్రద్ధా ధారణ కీనీ, తినకో కాజ సరయో || ఓం జయ లక్ష్మీరమణా గ్వాల బాల సంగ రాజా, వన మేం భక్తి కరీ || మనవాంఛిత ఫల దీన్హో, దీనదయాల హరీ || ఓం జయ లక్ష్మీరమణా చఢత ప్రసాద సవాయా, కదలీ ఫల మేవా || ధూప దీప తులసీ సే, రాజీ సత్యదేవా || ఓం జయ లక్ష్మీరమణా సత్యనారాయణ కీ ఆరతి, జో కోఇ నర గావే | కహత శివానంద స్వామీ, వాంఛిత ఫల పావే || ఓం జయ లక్ష్మీరమణా Return to Top MALAYALAM LYRICS ജയ ലക്ഷ്മീരമണാ, ശ്രീ ജയ ലക്ഷ്മീരമണാ | സത്യനാരായണ സ്വാമീ, ജനപാതക ഹരണാ || ഓം ജയ ലക്ഷ്മീരമണാ രത്ന ജഡിത സിംഹാസന, അദഭുത ഛവി രാജേ | നാരദ കരത നിരാജന, ഘണ്ടാ ധ്വനി ബാജേ || ഓം ജയ ലക്ഷ്മീരമണാ പ്രഗട ഭയേ കലി കാരണ, ദ്വിജ കോ ദരശ ദിയോ | ബൂഢോ ബ്രാഹ്മണ ബനകര, കഞ്ചന മഹല കിയോ || ഓം ജയ ലക്ഷ്മീരമണാ ദുർബല ഭീല കഠാരോ, ഇന പര കൃപാ കരീ | ചന്ദ്രചൂഡ ഏക രാജാ, ജിനകീ വിപത്തി ഹരീ || ഓം ജയ ലക്ഷ്മീരമണാ വൈശ്യ മനോരഥ പായോ, ശ്രദ്ധാ തജ ദീനീ | സോ ഫല ഭോഗ്യോ പ്രഭുജീ, ഫിര സ്തുതി കീനീ || ഓം ജയ ലക്ഷ്മീരമണാ ഭാവ ഭക്തി കേ കാരണ ഛിന-ഛിന രൂപ ധരയോ | ശ്രദ്ധാ ധാരണ കീനീ, തിനകോ കാജ സരയോ || ഓം ജയ ലക്ഷ്മീരമണാ ഗ്വാല ബാല സംഗ രാജാ, വന മേം ഭക്തി കരീ || മനവാഞ്ഛിത ഫല ദീൻഹോ, ദീനദയാല ഹരീ || ഓം ജയ ലക്ഷ്മീരമണാ ചഢത പ്രസാദ സവായാ, കദലീ ഫല മേവാ || ധൂപ ദീപ തുലസീ സേ, രാജീ സത്യദേവാ || ഓം ജയ ലക്ഷ്മീരമണാ സത്യനാരായണ കീ ആരതി, ജോ കോഇ നര ഗാവേ | കഹത ശിവാനന്ദ സ്വാമീ, വാഞ്ഛിത ഫല പാവേ || ഓം ജയ ലക്ഷ്മീരമണാ Return to Top KANNADA LYRICS ಜಯ ಲಕ್ಷ್ಮೀರಮಣಾ, ಶ್ರೀ ಜಯ ಲಕ್ಷ್ಮೀರಮಣಾ | ಸತ್ಯನಾರಾಯಣ ಸ್ವಾಮೀ, ಜನಪಾತಕ ಹರಣಾ || ಓಂ ಜಯ ಲಕ್ಷ್ಮೀರಮಣಾ ರತ್ನ ಜಡಿ಼ತ ಸಿಂಹಾಸನ, ಅದಭುತ ಛವಿ ರಾಜೇ | ನಾರದ ಕರತ ನಿರಾಜನ, ಘಂಟಾ ಧ್ವನಿ ಬಾಜೇ || ಓಂ ಜಯ ಲಕ್ಷ್ಮೀರಮಣಾ ಪ್ರಗಟ ಭಯೇ ಕಲಿ ಕಾರಣ, ದ್ವಿಜ ಕೋ ದರಶ ದಿಯೋ | ಬೂಢೋ಼ ಬ್ರಾಹ್ಮಣ ಬನಕರ, ಕಂಚನ ಮಹಲ ಕಿಯೋ || ಓಂ ಜಯ ಲಕ್ಷ್ಮೀರಮಣಾ ದುರ್ಬಲ ಭೀಲ ಕಠಾರೋ, ಇನ ಪರ ಕೃಪಾ ಕರೀ | ಚಂದ್ರಚೂಡ಼ ಏಕ ರಾಜಾ, ಜಿನಕೀ ವಿಪತ್ತಿ ಹರೀ || ಓಂ ಜಯ ಲಕ್ಷ್ಮೀರಮಣಾ ವೈಶ್ಯ ಮನೋರಥ ಪಾಯೋ, ಶ್ರದ್ಧಾ ತಜ ದೀನೀ | ಸೋ ಫಲ ಭೋಗ್ಯೋ ಪ್ರಭುಜೀ, ಫಿರ ಸ್ತುತಿ ಕೀನೀ || ಓಂ ಜಯ ಲಕ್ಷ್ಮೀರಮಣಾ ಭಾವ ಭಕ್ತಿ ಕೇ ಕಾರಣ ಛಿನ-ಛಿನ ರೂಪ ಧರಯೋ | ಶ್ರದ್ಧಾ ಧಾರಣ ಕೀನೀ, ತಿನಕೋ ಕಾಜ ಸರಯೋ || ಓಂ ಜಯ ಲಕ್ಷ್ಮೀರಮಣಾ ಗ್ವಾಲ ಬಾಲ ಸಂಗ ರಾಜಾ, ವನ ಮೇಂ ಭಕ್ತಿ ಕರೀ || ಮನವಾಂಛಿತ ಫಲ ದೀನ್ಹೋ, ದೀನದಯಾಲ ಹರೀ || ಓಂ ಜಯ ಲಕ್ಷ್ಮೀರಮಣಾ ಚಢ಼ತ ಪ್ರಸಾದ ಸವಾಯಾ, ಕದಲೀ ಫಲ ಮೇವಾ || ಧೂಪ ದೀಪ ತುಲಸೀ ಸೇ, ರಾಜೀ ಸತ್ಯದೇವಾ || ಓಂ ಜಯ ಲಕ್ಷ್ಮೀರಮಣಾ ಸತ್ಯನಾರಾಯಣ ಕೀ ಆರತಿ, ಜೋ ಕೋಇ ನರ ಗಾವೇ | ಕಹತ ಶಿವಾನಂದ ಸ್ವಾಮೀ, ವಾಂಛಿತ ಫಲ ಪಾವೇ || ಓಂ ಜಯ ಲಕ್ಷ್ಮೀರಮಣಾ Return to Top
  • Learn to Chant - Gowri Aarti Gowri Arathi [youtube=http://www.youtube.com/watch?v=8y6KNM5sk9E&hl=en&fs=1&] LYRICS: ENGLISH SANSKRIT TAMIL TELUGU MALAYALAM ENGLISH LYRICS || ōṁ jaya ambē gaurī || jaya ambē gaurī maiyā jaya śyāmā gaurī tuma kō nisa dina dhyāvat maiyājī kō nisa dina dhyāvat hari brahmā śivajī bōlō jaya ambē gaurī || māṁga sindūra virājata ṭīkō mr̥ga mada kō maiyā ṭīkō mr̥ga mada kō ujvala sē dō nainā candravadana nīkō bōlō jaya ambē gaurī|| kanaka samāna kalēvara raktāmbara sājē maiyā raktāmbara sājē rakta puṣpa galē mālā kaṇṭha hāra sājē bōlō jaya ambē gaurī|| kēhari vāhana rājata khaḍga kr̥pāṇa dhāri maiyā khaḍga kr̥pāṇa dhāri sura nara muni jana sēvata tinakē dukha hārī bōlō jaya ambē gaurī|| kānana kuṇḍala śōbhita nāsāgrē mōtī maiyā nāsāgrē mōtī kōṭika candra divākara sama rājata jyōtī bōlō jaya ambē gaurī|| śumbha niśumbha biḍārē mahiṣāsura dhātī maiyā mahiṣāsura dhāti dhūmra vilōcana nainā niśadina madamātī bōlō jaya ambē gaurī|| caṇḍa muṇḍa samhāra śōṇita bīja harē maiyā śōṇita bīja harē madhu kaiṭabha dōva mārē sura bhaya dūra karē bōlō jaya ambē gaurī|| brahmāṇī rudrāṇī tum kamalā rāṇī maiyā tuma kamalā rāṇī āgama nigama bakhānī tuma śiva paṭarānī bōlō jaya ambē gaurī|| causaṭha yōgina gāvata nr̥tya karata bhairōṁ maiyā nr̥taya karata bhairōṁ bājata tāḷa mr̥daṁga aura bājata ḍamarū bōlō jaya ambē gaurī|| tuma hō jaga kī mātā tuma hī hō bhartā maiyā tuma hī hō bhartā bhaktana kī dukha hartā sukha sampati kartā bōlō jaya ambē gaurī|| bhujā cāra ati śōbhita vara mudrā dhāri maiyā vara mudrā dharī mana vāṁchita phala pāvata dēvatā nara nārī bōlō jaya ambē gaurī|| kaṁcana thāla virājata agara kapūra bātī maiyā agara kapūra bātī māla kētu mēṁ rājata kōṭi ratana jyōtī bōlō jaya ambē gaurī|| māṁ ambē kī āratī jō kōyī nara gāvē maiyā jō kōyī nara gāvē kahta śivānanda svāmī sukha sampati pāvē bōlō jaya ambē gaurī|| Return to Top SANSKRIT LYRICS ॥ ॐ जय अम्बे गौरी ॥ जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी तुम को निस दिन ध्यावत् मैयाजी को निस दिन ध्यावत् हरि ब्रह्मा शिवजी बोलो जय अम्बे गौरी ॥ मांग सिन्दूर विराजत टीको मृग मद को मैया टीको मृग मद को उज्वल से दो नैना चन्द्रवदन नीको बोलो जय अम्बे गौरी॥ कनक समान कलेवर रक्ताम्बर साजे मैया रक्ताम्बर साजे रक्त पुष्प गले माला कण्ठ हार साजे बोलो जय अम्बे गौरी॥ केहरि वाहन राजत खड्ग कृपाण धारि मैया खड्ग कृपाण धारि सुर नर मुनि जन सेवत तिनके दुख हारी बोलो जय अम्बे गौरी॥ कानन कुण्डल शोभित नासाग्रे मोती मैया नासाग्रे मोती कोटिक चन्द्र दिवाकर सम राजत ज्योती बोलो जय अम्बे गौरी॥ शुम्भ निशुम्भ बिडारे महिषासुर धाती मैया महिषासुर धाति धूम्र विलोचन नैना निशदिन मदमाती बोलो जय अम्बे गौरी॥ चण्ड मुण्ड सम्हार शोणित बीज हरे मैया शोणित बीज हरे मधु कैटभ दोव मारे सुर भय दूर करे बोलो जय अम्बे गौरी॥ ब्रह्माणी रुद्राणी तुम् कमला राणी मैया तुम कमला राणी आगम निगम बखानी तुम शिव पटरानी बोलो जय अम्बे गौरी॥ चौसठ योगिन गावत नृत्य करत भैरों मैया नृतय करत भैरों बाजत ताळ मृदंग और बाजत डमरू बोलो जय अम्बे गौरी॥ तुम हो जग की माता तुम ही हो भर्ता मैया तुम ही हो भर्ता भक्तन की दुख हर्ता सुख सम्पति कर्ता बोलो जय अम्बे गौरी॥ भुजा चार अति शोभित वर मुद्रा धारि मैया वर मुद्रा धरी मन वांछित फल पावत देवता नर नारी बोलो जय अम्बे गौरी॥ कंचन थाल विराजत अगर कपूर बाती मैया अगर कपूर बाती माल केतु में राजत कोटि रतन ज्योती बोलो जय अम्बे गौरी॥ मां अम्बे की आरती जो कोयी नर गावे मैया जो कोयी नर गावे कह्त शिवानन्द स्वामी सुख सम्पति पावे बोलो जय अम्बे गौरी॥ Return to Top TAMIL LYRICS || ௐ ஜய அம்பே₃ கௌ₃ரீ || ஜய அம்பே₃ கௌ₃ரீ மையா ஜய ஶ்யாமா கௌ₃ரீ தும கோ நிஸ தி₃ன த்₄யாவத் மையாஜீ கோ நிஸ தி₃ன த்₄யாவத் ஹரி ப்₃ரஹ்மா ஶிவஜீ போ₃லோ ஜய அம்பே₃ கௌ₃ரீ || மாங்க₃ ஸிந்தூ₃ர விராஜத டீகோ ம்ருʼக₃ மத₃ கோ மையா டீகோ ம்ருʼக₃ மத₃ கோ உஜ்வல ஸே தோ₃ நைனா சந்த்₃ரவத₃ன நீகோ போ₃லோ ஜய அம்பே₃ கௌ₃ரீ|| கனக ஸமான கலேவர ரக்தாம்ப₃ர ஸாஜே மையா ரக்தாம்ப₃ர ஸாஜே ரக்த புஷ்ப க₃லே மாலா கண்ட₂ ஹார ஸாஜே போ₃லோ ஜய அம்பே₃ கௌ₃ரீ|| கேஹரி வாஹன ராஜத க₂ட்₃க₃ க்ருʼபாண தா₄ரி மையா க₂ட்₃க₃ க்ருʼபாண தா₄ரி ஸுர நர முனி ஜன ஸேவத தினகே து₃க₂ ஹாரீ போ₃லோ ஜய அம்பே₃ கௌ₃ரீ|| கானன குண்ட₃ல ஶோபி₄த நாஸாக்₃ரே மோதீ மையா நாஸாக்₃ரே மோதீ கோடிக சந்த்₃ர தி₃வாகர ஸம ராஜத ஜ்யோதீ போ₃லோ ஜய அம்பே₃ கௌ₃ரீ|| ஶும்ப₄ நிஶும்ப₄ பி₃டா₃ரே மஹிஷாஸுர தா₄தீ மையா மஹிஷாஸுர தா₄தி தூ₄ம்ர விலோசன நைனா நிஶதி₃ன மத₃மாதீ போ₃லோ ஜய அம்பே₃ கௌ₃ரீ|| சண்ட₃ முண்ட₃ ஸம்ஹார ஶோணித பீ₃ஜ ஹரே மையா ஶோணித பீ₃ஜ ஹரே மது₄ கைடப₄ தோ₃வ மாரே ஸுர ப₄ய தூ₃ர கரே போ₃லோ ஜய அம்பே₃ கௌ₃ரீ|| ப்₃ரஹ்மாணீ ருத்₃ராணீ தும் கமலா ராணீ மையா தும கமலா ராணீ ஆக₃ம நிக₃ம ப₃கா₂னீ தும ஶிவ படரானீ போ₃லோ ஜய அம்பே₃ கௌ₃ரீ|| சௌஸட₂ யோகி₃ன கா₃வத ந்ருʼத்ய கரத பை₄ரோம்ʼ மையா ந்ருʼதய கரத பை₄ரோம்ʼ பா₃ஜத தாள ம்ருʼத₃ங்க₃ ஔர பா₃ஜத ட₃மரூ போ₃லோ ஜய அம்பே₃ கௌ₃ரீ|| தும ஹோ ஜக₃ கீ மாதா தும ஹீ ஹோ ப₄ர்தா மையா தும ஹீ ஹோ ப₄ர்தா ப₄க்தன கீ து₃க₂ ஹர்தா ஸுக₂ ஸம்பதி கர்தா போ₃லோ ஜய அம்பே₃ கௌ₃ரீ|| பு₄ஜா சார அதி ஶோபி₄த வர முத்₃ரா தா₄ரி மையா வர முத்₃ரா த₄ரீ மன வாஞ்சி₂த ப₂ல பாவத தே₃வதா நர நாரீ போ₃லோ ஜய அம்பே₃ கௌ₃ரீ|| கஞ்சன தா₂ல விராஜத அக₃ர கபூர பா₃தீ மையா அக₃ர கபூர பா₃தீ மால கேது மேம்ʼ ராஜத கோடி ரதன ஜ்யோதீ போ₃லோ ஜய அம்பே₃ கௌ₃ரீ|| மாம்ʼ அம்பே₃ கீ ஆரதீ ஜோ கோயீ நர கா₃வே மையா ஜோ கோயீ நர கா₃வே கஹ்த ஶிவானந்த₃ ஸ்வாமீ ஸுக₂ ஸம்பதி பாவே போ₃லோ ஜய அம்பே₃ கௌ₃ரீ|| Return to Top TELUGU LYRICS || ఓం జయ అంబే గౌరీ || జయ అంబే గౌరీ మైయా జయ శ్యామా గౌరీ తుమ కో నిస దిన ధ్యావత్ మైయాజీ కో నిస దిన ధ్యావత్ హరి బ్రహ్మా శివజీ బోలో జయ అంబే గౌరీ || మాంగ సిందూర విరాజత టీకో మృగ మద కో మైయా టీకో మృగ మద కో ఉజ్వల సే దో నైనా చంద్రవదన నీకో బోలో జయ అంబే గౌరీ|| కనక సమాన కలేవర రక్తాంబర సాజే మైయా రక్తాంబర సాజే రక్త పుష్ప గలే మాలా కంఠ హార సాజే బోలో జయ అంబే గౌరీ|| కేహరి వాహన రాజత ఖడ్గ కృపాణ ధారి మైయా ఖడ్గ కృపాణ ధారి సుర నర ముని జన సేవత తినకే దుఖ హారీ బోలో జయ అంబే గౌరీ|| కానన కుండల శోభిత నాసాగ్రే మోతీ మైయా నాసాగ్రే మోతీ కోటిక చంద్ర దివాకర సమ రాజత జ్యోతీ బోలో జయ అంబే గౌరీ|| శుంభ నిశుంభ బిడారే మహిషాసుర ధాతీ మైయా మహిషాసుర ధాతి ధూమ్ర విలోచన నైనా నిశదిన మదమాతీ బోలో జయ అంబే గౌరీ|| చండ ముండ సమ్హార శోణిత బీజ హరే మైయా శోణిత బీజ హరే మధు కైటభ దోవ మారే సుర భయ దూర కరే బోలో జయ అంబే గౌరీ|| బ్రహ్మాణీ రుద్రాణీ తుం కమలా రాణీ మైయా తుమ కమలా రాణీ ఆగమ నిగమ బఖానీ తుమ శివ పటరానీ బోలో జయ అంబే గౌరీ|| చౌసఠ యోగిన గావత నృత్య కరత భైరోం మైయా నృతయ కరత భైరోం బాజత తాళ మృదంగ ఔర బాజత డమరూ బోలో జయ అంబే గౌరీ|| తుమ హో జగ కీ మాతా తుమ హీ హో భర్తా మైయా తుమ హీ హో భర్తా భక్తన కీ దుఖ హర్తా సుఖ సంపతి కర్తా బోలో జయ అంబే గౌరీ|| భుజా చార అతి శోభిత వర ముద్రా ధారి మైయా వర ముద్రా ధరీ మన వాంఛిత ఫల పావత దేవతా నర నారీ బోలో జయ అంబే గౌరీ|| కంచన థాల విరాజత అగర కపూర బాతీ మైయా అగర కపూర బాతీ మాల కేతు మేం రాజత కోటి రతన జ్యోతీ బోలో జయ అంబే గౌరీ|| మాం అంబే కీ ఆరతీ జో కోయీ నర గావే మైయా జో కోయీ నర గావే కహ్త శివానంద స్వామీ సుఖ సంపతి పావే బోలో జయ అంబే గౌరీ|| Return to Top MALAYALAM LYRICS || ഓം ജയ അംബേ ഗൗരീ || ജയ അംബേ ഗൗരീ മൈയാ ജയ ശ്യാമാ ഗൗരീ തുമ കോ നിസ ദിന ധ്യാവത് മൈയാജീ കോ നിസ ദിന ധ്യാവത് ഹരി ബ്രഹ്മാ ശിവജീ ബോലോ ജയ അംബേ ഗൗരീ || മാംഗ സിന്ദൂര വിരാജത ടീകോ മൃഗ മദ കോ മൈയാ ടീകോ മൃഗ മദ കോ ഉജ്വല സേ ദോ നൈനാ ചന്ദ്രവദന നീകോ ബോലോ ജയ അംബേ ഗൗരീ|| കനക സമാന കലേവര രക്താംബര സാജേ മൈയാ രക്താംബര സാജേ രക്ത പുഷ്പ ഗലേ മാലാ കണ്ഠ ഹാര സാജേ ബോലോ ജയ അംബേ ഗൗരീ|| കേഹരി വാഹന രാജത ഖഡ്ഗ കൃപാണ ധാരി മൈയാ ഖഡ്ഗ കൃപാണ ധാരി സുര നര മുനി ജന സേവത തിനകേ ദുഖ ഹാരീ ബോലോ ജയ അംബേ ഗൗരീ|| കാനന കുണ്ഡല ശോഭിത നാസാഗ്രേ മോതീ മൈയാ നാസാഗ്രേ മോതീ കോടിക ചന്ദ്ര ദിവാകര സമ രാജത ജ്യോതീ ബോലോ ജയ അംബേ ഗൗരീ|| ശുംഭ നിശുംഭ ബിഡാരേ മഹിഷാസുര ധാതീ മൈയാ മഹിഷാസുര ധാതി ധൂമ്ര വിലോചന നൈനാ നിശദിന മദമാതീ ബോലോ ജയ അംബേ ഗൗരീ|| ചണ്ഡ മുണ്ഡ സമ്ഹാര ശോണിത ബീജ ഹരേ മൈയാ ശോണിത ബീജ ഹരേ മധു കൈടഭ ദോവ മാരേ സുര ഭയ ദൂര കരേ ബോലോ ജയ അംബേ ഗൗരീ|| ബ്രഹ്മാണീ രുദ്രാണീ തും കമലാ രാണീ മൈയാ തുമ കമലാ രാണീ ആഗമ നിഗമ ബഖാനീ തുമ ശിവ പടരാനീ ബോലോ ജയ അംബേ ഗൗരീ|| ചൗസഠ യോഗിന ഗാവത നൃത്യ കരത ഭൈരോം മൈയാ നൃതയ കരത ഭൈരോം ബാജത താള മൃദംഗ ഔര ബാജത ഡമരൂ ബോലോ ജയ അംബേ ഗൗരീ|| തുമ ഹോ ജഗ കീ മാതാ തുമ ഹീ ഹോ ഭർതാ മൈയാ തുമ ഹീ ഹോ ഭർതാ ഭക്തന കീ ദുഖ ഹർതാ സുഖ സമ്പതി കർതാ ബോലോ ജയ അംബേ ഗൗരീ|| ഭുജാ ചാര അതി ശോഭിത വര മുദ്രാ ധാരി മൈയാ വര മുദ്രാ ധരീ മന വാഞ്ഛിത ഫല പാവത ദേവതാ നര നാരീ ബോലോ ജയ അംബേ ഗൗരീ|| കഞ്ചന ഥാല വിരാജത അഗര കപൂര ബാതീ മൈയാ അഗര കപൂര ബാതീ മാല കേതു മേം രാജത കോടി രതന ജ്യോതീ ബോലോ ജയ അംബേ ഗൗരീ|| മാം അംബേ കീ ആരതീ ജോ കോയീ നര ഗാവേ മൈയാ ജോ കോയീ നര ഗാവേ കഹ്ത ശിവാനന്ദ സ്വാമീ സുഖ സമ്പതി പാവേ ബോലോ ജയ അംബേ ഗൗരീ|| Return to Top
  • Learn to Chant - Lakshmi Aarti Lakshmi Arathi [youtube=http://www.youtube.com/watch?v=UMgbSSFuXVg&hl=en&fs=1&] LYRICS: ENGLISH SANSKRIT/HINDI TAMIL TELUGU MALAYALAM ENGLISH LYRICS ōṁ jaya lakṣmī mātā, maiyā jaya lakṣmī mātā tuma kō nisa dina sēvata, maiyājī kō nisa dina sēvata hara viṣṇu vidhātā | ōṁ jaya lakṣmī mātā || umā ramā brahmāṇī, tuma hī jaga mātā ō maiyā tuma hī jaga mātā | sūrya candra mām̐ dhyāvata, nārada r̥ṣi gātā ōṁ jaya lakṣmī mātā || durgā rūpa niranjani, sukha sampati dātā ō maiyā sukha sampati dātā | jō kōī tuma kō dhyāvata, r̥ddhi siddhi dhana pātā ōṁ jaya lakṣmī mātā || tuma pātāla nivāsini, tuma hī śubha dātā ō maiyā tuma hī śubha dātā | karma prabhāva prakāśini, bhava nidhi kī dātā ōṁ jaya lakṣmī mātā || jisa ghara tuma rahatī taham̐ saba sadguṇa ātā ō maiyā saba sadguṇa ātā | saba saṁbhava hō jātā, mana nahīṁ ghabarātā ōṁ jaya lakṣmī mātā || tuma bina yajña na hōtē, vastra na kōī pātā ō maiyā vastra na kōī pātā | khāna pāna kā vaibhava, saba tuma sē ātā ōṁ jaya lakṣmī mātā || śubha guṇa maṁdira suṁdara, kṣīrōdadhi jātā ō maiyā kṣīrōdadhi jātā | ratna caturdaśa tuma bina, kōī nahīṁ pātā ōṁ jaya lakṣmī mātā || mahā lakṣmījī kī āratī, jō kōī jana gātā ō maiyā jō kōī jana gātā | ura ānaṁda samātā, pāpa utara jātā ōṁ jaya lakṣmī mātā || Return to Top SANSKRIT/HINDI LYRICS ॐ जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता तुम को निस दिन सेवत, मैयाजी को निस दिन सेवत हर विष्णु विधाता । ॐ जय लक्ष्मी माता ॥ उमा रमा ब्रह्माणी, तुम ही जग माता ओ मैया तुम ही जग माता । सूर्य चन्द्र माँ ध्यावत, नारद ऋषि गाता ॐ जय लक्ष्मी माता ॥ दुर्गा रूप निरन्जनि, सुख सम्पति दाता ओ मैया सुख सम्पति दाता । जो कोई तुम को ध्यावत, ऋद्धि सिद्धि धन पाता ॐ जय लक्ष्मी माता ॥ तुम पाताल निवासिनि, तुम ही शुभ दाता ओ मैया तुम ही शुभ दाता । कर्म प्रभाव प्रकाशिनि, भव निधि की दाता ॐ जय लक्ष्मी माता ॥ जिस घर तुम रहती तहँ सब सद्गुण आता ओ मैया सब सद्गुण आता । सब संभव हो जाता, मन नहीं घबराता ॐ जय लक्ष्मी माता ॥ तुम बिन यज्ञ न होते, वस्त्र न कोई पाता ओ मैया वस्त्र न कोई पाता । खान पान का वैभव, सब तुम से आता ॐ जय लक्ष्मी माता ॥ शुभ गुण मंदिर सुंदर, क्षीरोदधि जाता ओ मैया क्षीरोदधि जाता । रत्न चतुर्दश तुम बिन, कोई नहीं पाता ॐ जय लक्ष्मी माता ॥ महा लक्ष्मीजी की आरती, जो कोई जन गाता ओ मैया जो कोई जन गाता । उर आनंद समाता, पाप उतर जाता ॐ जय लक्ष्मी माता ॥ Return to Top TAMIL LYRICS ௐ ஜய லக்ஷ்மீ மாதா, மையா ஜய லக்ஷ்மீ மாதா தும கோ நிஸ தி₃ன ஸேவத, மையாஜீ கோ நிஸ தி₃ன ஸேவத ஹர விஷ்ணு விதா₄தா | ௐ ஜய லக்ஷ்மீ மாதா || உமா ரமா ப்₃ரஹ்மாணீ, தும ஹீ ஜக₃ மாதா ஓ மையா தும ஹீ ஜக₃ மாதா | ஸூர்ய சந்த்₃ர மாம் ̐ த்₄யாவத, நாரத₃ ருʼஷி கா₃தா ௐ ஜய லக்ஷ்மீ மாதா || து₃ர்கா₃ ரூப நிரன்ஜனி, ஸுக₂ ஸம்பதி தா₃தா ஓ மையா ஸுக₂ ஸம்பதி தா₃தா | ஜோ கோஈ தும கோ த்₄யாவத, ருʼத்₃தி₄ ஸித்₃தி₄ த₄ன பாதா ௐ ஜய லக்ஷ்மீ மாதா || தும பாதால நிவாஸினி, தும ஹீ ஶுப₄ தா₃தா ஓ மையா தும ஹீ ஶுப₄ தா₃தா | கர்ம ப்ரபா₄வ ப்ரகாஶினி, ப₄வ நிதி₄ கீ தா₃தா ௐ ஜய லக்ஷ்மீ மாதா || ஜிஸ க₄ர தும ரஹதீ தஹம் ̐ ஸப₃ ஸத்₃கு₃ண ஆதா ஓ மையா ஸப₃ ஸத்₃கு₃ண ஆதா | ஸப₃ ஸம்ப₄வ ஹோ ஜாதா, மன நஹீம்ʼ க₄ப₃ராதா ௐ ஜய லக்ஷ்மீ மாதா || தும பி₃ன யஜ்ஞ ந ஹோதே, வஸ்த்ர ந கோஈ பாதா ஓ மையா வஸ்த்ர ந கோஈ பாதா | கா₂ன பான கா வைப₄வ, ஸப₃ தும ஸே ஆதா ௐ ஜய லக்ஷ்மீ மாதா || ஶுப₄ கு₃ண மந்தி₃ர ஸுந்த₃ர, க்ஷீரோத₃தி₄ ஜாதா ஓ மையா க்ஷீரோத₃தி₄ ஜாதா | ரத்ன சதுர்த₃ஶ தும பி₃ன, கோஈ நஹீம்ʼ பாதா ௐ ஜய லக்ஷ்மீ மாதா || மஹா லக்ஷ்மீஜீ கீ ஆரதீ, ஜோ கோஈ ஜன கா₃தா ஓ மையா ஜோ கோஈ ஜன கா₃தா | உர ஆனந்த₃ ஸமாதா, பாப உதர ஜாதா ௐ ஜய லக்ஷ்மீ மாதா || Return to Top TELUGU LYRICS ఓం జయ లక్ష్మీ మాతా, మైయా జయ లక్ష్మీ మాతా తుమ కో నిస దిన సేవత, మైయాజీ కో నిస దిన సేవత హర విష్ణు విధాతా | ఓం జయ లక్ష్మీ మాతా || ఉమా రమా బ్రహ్మాణీ, తుమ హీ జగ మాతా ఓ మైయా తుమ హీ జగ మాతా | సూర్య చంద్ర మాఁ ధ్యావత, నారద ఋషి గాతా ఓం జయ లక్ష్మీ మాతా || దుర్గా రూప నిరన్జని, సుఖ సంపతి దాతా ఓ మైయా సుఖ సంపతి దాతా | జో కోఈ తుమ కో ధ్యావత, ఋద్ధి సిద్ధి ధన పాతా ఓం జయ లక్ష్మీ మాతా || తుమ పాతాల నివాసిని, తుమ హీ శుభ దాతా ఓ మైయా తుమ హీ శుభ దాతా | కర్మ ప్రభావ ప్రకాశిని, భవ నిధి కీ దాతా ఓం జయ లక్ష్మీ మాతా || జిస ఘర తుమ రహతీ తహఁ సబ సద్గుణ ఆతా ఓ మైయా సబ సద్గుణ ఆతా | సబ సంభవ హో జాతా, మన నహీం ఘబరాతా ఓం జయ లక్ష్మీ మాతా || తుమ బిన యజ్ఞ న హోతే, వస్త్ర న కోఈ పాతా ఓ మైయా వస్త్ర న కోఈ పాతా | ఖాన పాన కా వైభవ, సబ తుమ సే ఆతా ఓం జయ లక్ష్మీ మాతా || శుభ గుణ మందిర సుందర, క్షీరోదధి జాతా ఓ మైయా క్షీరోదధి జాతా | రత్న చతుర్దశ తుమ బిన, కోఈ నహీం పాతా ఓం జయ లక్ష్మీ మాతా || మహా లక్ష్మీజీ కీ ఆరతీ, జో కోఈ జన గాతా ఓ మైయా జో కోఈ జన గాతా | ఉర ఆనంద సమాతా, పాప ఉతర జాతా ఓం జయ లక్ష్మీ మాతా || Return to Top MALAYALAM LYRICS ഓം ജയ ലക്ഷ്മീ മാതാ, മൈയാ ജയ ലക്ഷ്മീ മാതാ തുമ കോ നിസ ദിന സേവത, മൈയാജീ കോ നിസ ദിന സേവത ഹര വിഷ്ണു വിധാതാ | ഓം ജയ ലക്ഷ്മീ മാതാ || ഉമാ രമാ ബ്രഹ്മാണീ, തുമ ഹീ ജഗ മാതാ ഓ മൈയാ തുമ ഹീ ജഗ മാതാ | സൂര്യ ചന്ദ്ര മാം ധ്യാവത, നാരദ ഋഷി ഗാതാ ഓം ജയ ലക്ഷ്മീ മാതാ || ദുർഗാ രൂപ നിരൻജനി, സുഖ സമ്പതി ദാതാ ഓ മൈയാ സുഖ സമ്പതി ദാതാ | ജോ കോഈ തുമ കോ ധ്യാവത, ഋദ്ധി സിദ്ധി ധന പാതാ ഓം ജയ ലക്ഷ്മീ മാതാ || തുമ പാതാല നിവാസിനി, തുമ ഹീ ശുഭ ദാതാ ഓ മൈയാ തുമ ഹീ ശുഭ ദാതാ | കർമ പ്രഭാവ പ്രകാശിനി, ഭവ നിധി കീ ദാതാ ഓം ജയ ലക്ഷ്മീ മാതാ || ജിസ ഘര തുമ രഹതീ തഹം സബ സദ്ഗുണ ആതാ ഓ മൈയാ സബ സദ്ഗുണ ആതാ | സബ സംഭവ ഹോ ജാതാ, മന നഹീം ഘബരാതാ ഓം ജയ ലക്ഷ്മീ മാതാ || തുമ ബിന യജ്ഞ ന ഹോതേ, വസ്ത്ര ന കോഈ പാതാ ഓ മൈയാ വസ്ത്ര ന കോഈ പാതാ | ഖാന പാന കാ വൈഭവ, സബ തുമ സേ ആതാ ഓം ജയ ലക്ഷ്മീ മാതാ || ശുഭ ഗുണ മന്ദിര സുന്ദര, ക്ഷീരോദധി ജാതാ ഓ മൈയാ ക്ഷീരോദധി ജാതാ | രത്ന ചതുർദശ തുമ ബിന, കോഈ നഹീം പാതാ ഓം ജയ ലക്ഷ്മീ മാതാ || മഹാ ലക്ഷ്മീജീ കീ ആരതീ, ജോ കോഈ ജന ഗാതാ ഓ മൈയാ ജോ കോഈ ജന ഗാതാ | ഉര ആനന്ദ സമാതാ, പാപ ഉതര ജാതാ ഓം ജയ ലക്ഷ്മീ മാതാ || Return to Top
  • Learn to Chant - Ganesha Arati जय गणेश, जय गणेश, जय गणेश, देवा . माता जाकी पारवती, पिता महादेवा .. एकदन्त, दयावन्त, चारभुजाधारी, माथे पर तिलक सोहे, मूसे की सवारी . पान चढ़े, फूल चढ़े और चढ़े मेवा, लड्डुअन का भोग लगे, सन्त करें सेवा .. अंधे को आँख देत, कोढ़िन को काया, बाँझन को पुत्र देत, निर्धन को माया . 'सूर' श्याम शरण आए, सफल कीजे सेवा, जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा ..
  • Om Jai Jagadish Hare Om Jai Jagdish Hare is the most popular of the Hindu aartis. Composed sometime around 1870s by Pandit Shardha Ram Phillauri in Punjab, India , now it is sung around the world by Hindus of all background. Even though it is in Hindi, it is universally used by Hindus speaking any of the numerous Indian languages, or belonging to any one of many sects. It may have been inspired by Dashavatara (दशावतार कीर्ति धवलम्) section of Gita Govinda of Jayadeva, a lyrical composition of 12th century, which has the same refrain: The prayer is sung at the time of aarti (Source: Wikipedia) [youtube=http://www.youtube.com/watch?v=JiWSM5Klcqo] LYRICS: ENGLISH HINDI ENGLISH LYRICS Om Jaye Jagdish Hare, Swami Jaye Jagdish Hare Bhakt Jano Ke Sankat, Khshan Mein Dur Kare ... JoDhaywe Phal Pave, Dukh Vinshe Man Ka Sukh Sampati Ghar Aave, Kasht Mite Tan Ka ... Maat-Pita Tum Mere, Sharan Gahun Kiskee Tum Bin Aur Na Duja, Aas Karun Jiskee ... Tum Puran Parmatma, Tum Antaryami Par-Brahm Parmeshwar, Tum Sabke Swami ... Tum Karuna Ke Saagar, Tum Palankarta Mein Moorakh Khal Kami, Mein Sewak Tum Swami, Kripa Karo Bharta ... Tum Ho Ek Agochar, Sabke Pran Pati Kis Vidhi Milun Dayamay, Tumko Mein Kumti ... Deenbandhu Dukh Harta, Thakur Tum Mere Apne Hath Badao, Apni Sharan Lagao, Dwar Para Tere ... Vishay Vikaar Mitao, Paap Haro Deva Shradha Bhakti Barao, Santan Ki Sewa ... Tan Man Dhan, Sab Hai Tera Tera Tujhko Arpan, Kya Lage Mera ... Return to Top HINDI LYRICS ॐ जय जगदीश हरे स्वामी जय जगदीश हरे भक्त जनों के संकट, दास जनों के संकट, क्षण में दूर करे, ॐ जय जगदीश हरे जो ध्यावे फल पावे, दुख बिनसे मन का स्वामी दुख बिनसे मन का सुख सम्मति घर आवे, सुख सम्मति घर आवे, कष्ट मिटे तन का ॐ जय जगदीश हरे मात पिता तुम मेरे, शरण गहूं मैं किसकी स्वामी शरण गहूं मैं किसकी . तुम बिन और न दूजा, तुम बिन और न दूजा, आस करूं मैं जिसकी ॐ जय जगदीश हरे तुम पूरण परमात्मा, तुम अंतरयामी स्वामी तुम अंतरयामी पारब्रह्म परमेश्वर, पारब्रह्म परमेश्वर, तुम सब के स्वामी ॐ जय जगदीश हरे तुम करुणा के सागर, तुम पालनकर्ता स्वामी तुम पालनकर्ता, मैं मूरख खल कामी मैं सेवक तुम स्वामी, कृपा करो भर्ता ॐ जय जगदीश हरे तुम हो एक अगोचर, सबके प्राणपति, स्वामी सबके प्राणपति, किस विधि मिलूं दयामय, किस विधि मिलूं दयामय, तुमको मैं कुमति ॐ जय जगदीश हरे दीनबंधु दुखहर्ता, ठाकुर तुम मेरे, स्वामी ठाकुर तुम मेरे अपने हाथ उठाओ, अपने शरण लगाओ द् वार पड़ा तेरे ॐ जय जगदीश हरे षय विकार मिटाओ, पाप हरो देवा, स्वामी पाप हरो देवा,. श्रद्धा भक्ति बढ़ाओ, श्रद्धा भक्ति बढ़ाओ, संतन की सेवा ॐ जय जगदीश हरे 'ॐ जय जगदीश हरे स्वामी जय जगदीश हरे भक्त जनों के संकट, दास जनों के संकट, क्षण में दूर करे, ॐ जय जगदीश हरे जो ध्यावे फल पावे, दुख बिनसे मन का स्वामी दुख बिनसे मन का सुख सम्पति घर आवे, सुख सम्पति घर आवे, कष्ट मिटे तन का ॐ जय जगदीश हरे मात पिता तुम मेरे, शरण गहूं मैं किसकी स्वामी शरण गहूं मैं किसकी तुम बिन और न दूजा, तुम बिन और न दूजा, आस करूं मैं जिसकी ॐ जय जगदीश हरे तुम पूरण परमात्मा, तुम अंतरयामी स्वामी तुम अंतरयामी पारब्रह्म परमेश्वर, पारब्रह्म परमेश्वर, तुम सब के स्वामी ॐ जय जगदीश हरे तुम करुणा के सागर, तुम पालनकर्ता स्वामी तुम पालनकर्ता, मैं मूरख खल कामी मैं सेवक तुम स्वामी, कृपा करो भर्ता ॐ जय जगदीश हरे तुम हो एक अगोचर, सबके प्राणपति, स्वामी सबके प्राणपति, क िस विधि मिलूं दयामय, क िस विधि मिलूं दयामय, तुमको मैं कुमति ॐ जय जगदीश हरे दीनबंधु दुखहर्ता, ठाकुर तुम मेरे, स्वामी ठाकुर तुम मेरे अपने हाथ उठाओ, अपने शरण लगाओ द् वार पड़ा तेरे ॐ जय जगदीश हरे षय विकार मिटाओ, पाप हरो देवा, स्वमी पाप हरो देवा, श्रद्धा भक्ति बढ़ाओ, श्रद्धा भक्ति बढ़ाओ, संतन की सेवा ॐ जय जगदीश हरे ॐ जय जगदीश हरे स्वामी जय जगदीश हरे भक्त जनों के संकट, दास जनों के संकट, क्षण में दूर करे, ॐ जय जगदीश हरे' Return to Top
  • Sukhakarta Dukhaharta Aarti Ganesh Arathi [youtube=http://www.youtube.com/watch?v=itDp-J5aXB8&hl=en&fs=1&] LYRICS: ENGLISH HINDI TAMIL ENGLISH LYRICS Sukhkarta dukhharta varta vighnachi I Nurvi purvi prem kripa jayachi I Sarvangi sundar uti shendurachi I Kanthi zalke mal mukta- phalachi II 1 II Jaya dev jaya dev jaya mangal murti I Darshanmatre mankamana purti I Ratnakhachit fara tuj gaurikumra I Chandanachi uti kumkumkeshara I Hirejadit mugut Shobhato bara I Runzunati nupure charni ghagaria II 2 II Lambodar Pitambar phadi varvandana I Saral sond vakratunda trinayan I Das ramacha vat pahe sadana I Sankti pavave Nirvani Rakshave survarvandana II 3 II Jaya dev jaya dev jaya mangal murti I Darshanmatre mankamana purti II Darshan.II Return to Top HINDI LYRICS // श्री गणपतीची आरती // सुखकर्ता दु:खहर्ता वार्ता विघ्नाची/ नुरवी पुरवी प्रेम कृपा जयाची // सर्वांगी सुंदर उटी शेंदुराची / कंठी झळके माळ मुक्ताफळांची // 1 // जय देव जय देव जय मंगलमूर्ती // दर्शनमात्रे मन कामना पुरती // धृ // रत्नखचीत फरा तुझ गौरीकुमरा / चंदनची उटी कुमकुम केशरा // हिरे जडीत मुकुट शोभतो बरा/ ऋण झून तेणु पुरी चरणी घागरिया// 2 // जय देव जय देव जय मंगलमूर्ती //दर्शनमात्रे मन कामना पुरती // लंबोदर पीतांबर फणिवर बंधना / सरळ सोंड वक्रतुंड त्रिनयना // दास रामाचा वाट पाहे सदना / संकटी पावावे निर्वाणी रक्षावे सुरवरवंदना// 3 // जय देव जय देव जय मंगलमूर्ती / दर्शनमात्रे मन कामना पुरती // Return to Top TAMIL LYRICS ஸ்ரீ கணேஷ் ஆரத்தீ ஸுககர்த்தா துக்ககர்த்தா வார்த்தா விக்னாச்சி நுரவீ புரவீ ப்ரேம க்ருபா ஜெயாச்சீ ஸர்வாங்கி ஸுந்தர உடீ ஷெந்துராச்சீ கண்டீ ஜலகே மால் முக்தாபளாசீ ஜெய தேவ ஜெய தேவ ஜெய மங்கள மூர்த்தி தர்ஷனமாத்ரே மன காமானா பூர்த்தி (ஜெய தேவ ) ரத்னகசித பரா துஜ கௌரீகுமரா சந்தநாசீ உடீ குங்கும் கேஶரா ஹீரே ஜடித முகுட ஷோபதோ பரா ருணஜ்ஹ்ணதீ நூபுரே சரணீ காகரியா (ஜெய தேவ) லம்போதர பீதாம்பர பணிவர்பந்தனா சரள ஸோன்ட்ட வக்ரதுண்ட த்ரிநயனா தாஸ ராமாசா வாட் பாஹே ஸதனா சங்கடீ பாவாவே நிர்வாணி ரக்ஷாவே ஸுரவர வந்தனா (ஜெய தேவ) (Tamil Transliteration by Saroja Sundaresan - Updated on 30th Sep. 2009) Return to Top

One Response  
  • arpana writes:
    July 22nd, 2010 at 1:36 pm

    A lovely blog. I would love to frequent it often.


Leave a Reply


XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>




»  Substance:WordPress   »  Style:Ahren Ahimsa
© (C) http://www.mantraaonline.com/. All rights reserved.